Arenacakes

Blog

Uncategorized

IND vs ENG: चौथे टेस्ट से पहले बोले बेन फोक्स- हम जानते हैं गेंद पहले ओवर से स्पिनरों को करेगी मदद

अहमदाबाद. इंग्लैंड के  विकेटकीपर-बल्लेबाज बेन फोक्स ने भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले आखिरी टेस्ट मैच से पहले पिच पर टिप्पणी की है. फोक्स ने कहा है कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि चौथे टेस्ट मैच में गेंद पहली ही बॉल से स्पिनरों को मदद करेगी. फोक्स ने कहा कि उनकी टीम इस चुनौती से निपटने के लिए तैयार है.

बता दें कि तीसरा पिंक बॉल टेस्ट महज दो दिनों में खत्म हो गया था. इसके बाद पिच को लेकर कई खिलाड़ियों ने सवाल उठाए. वहीं कई खिलाड़ियों ने अहमदाबाद के पिच का बचाव भी किया. फोक्स ने कहा कि उन्हें पता चला है कि बीसीसीआई चौथे टेस्ट के लिए ऐसी पिच बनाने जा रहा है जिससे बल्लेबाजों को खुशी होगी. हालांकि फोक्स ने यह भी कहा कि उन्हें लगता है कि गेंद पहली ही बॉल से टर्न लेगी.

28 साल के विकेटकीपर-बल्लेबाज ने नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम में शानदार प्रदर्शन करने के लिए भारत की सराहना की. ‘जाहिर है, हम पूरी तरह से नाकाम हो गए. वे मुश्किल हालात थे, लेकिन उन्होंने अच्छा खेला. उनके पास कुछ शानदार स्पिनर हैं और हमारे पास उनका कोई जवाब नहीं था. इसलिए मुझे लगता है कि आगे जाकर हमें बोर्ड पर बड़े रन टांगने के लिए कड़ा मुकाबला करना होगा.

उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि हम जानते हैं कि हमें आखिरी टेस्ट में क्या हासिल होगा. वे अपनी परिस्थितियों को चरम सीमा तक ले जा रहे हैं और हम जानते हैं कि यह गेंद पहले दिन से स्पिन करने वाली है, यह उन परिस्थितियों में अच्छा खेलने का तरीका खोजने के बारे में है.

इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) द्वारा खिलाड़ियों की रोटेशन नीति के तहत चेन्नई में पहले टेस्ट के बाद नियमित कीपर जोस बटलर के भारत से वापस आने के बाद फोक्स को इंग्लिश टीम के लिए विकेट रखने की जिम्मेदारी दी गई. फोक्स ने स्टंप्स के पीछे सराहनीय काम किया है और क्रिकेट बिरादरी को अपने प्रदर्शन से प्रभावित करने में कामयाब रहे हैं.

अपने प्रदर्शन के बारे में बात करते हुए, बेन ने कहा कि अंतिम दो पिचों पर टिके रहना उनके लिए बेहद कठिन है क्योंकि गेंद बहुत अधिक स्किडिंग और स्पिनिंग कर रही है. उन्होंने आगे कहा कि इंग्लैंड की टीम को श्रृंखला ड्रा कराने के लिए अंतिम टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन करने की जरूरत है.

उन्होंने कहा, ‘आखिरी दो पिचें सबसे कठिन हैं, जिन्हें मैंने आखिरी गेम में देखा था. गुलाबी गेंद स्किडिंग कर रही थी और जितना वह घूम रही थी, मैंने कभी ऐसा नहीं देखा और यह उन विकेटों पर टिके रहना काफी चुनौतीपूर्ण था. पिछले दो मैचों में हम आउटप्ले हो चुके हैं, लेकिन हम सीरीज ड्रा करने की स्थिति में हैं, हमें अच्छा प्रदर्शन करना होगा और अगर हम 2-2 से बराबरी पर छूट जाते हैं, तो यह अच्छा प्रदर्शन होगा.’

AuthenticCapitalstore

Leave a Reply