Arenacakes

Blog

Uncategorized

एक लाख रुपये रिश्वत की डिमांड करने वाले तीन लोग गिरफ्तार, TRS सांसद का भी आया मामले में नाम

नई दिल्ली: सीबीआई ने दक्षिण दिल्ली में एक निर्माणाधीन मकान को छुड़वाने की धमकी देकर एक लाख रुपये वसूल रहे तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. इनमें से एक टीआरएस की सांसद कविता का ड्राइवर है. सीबीआई ने तीन लोगों की गिरफ्तारी की अधिकारिक पुष्टि की है. जबकि सांसद कविता ने इस बात को स्वीकार किया है कि इनमें से गिरफ्तार एक शख्स उनका ड्राइवर है जबकि दो अन्य लोगों को नहीं जानती है. वहीं दिल्ली में उनका कोई निजी सहायक नहीं है. वहीं सीबीआई गिरफ्तार तीनों लोगों के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है.

सीबीआई प्रवक्ता आरसी जोशी के मुताबिक दक्षिण दिल्ली में रहने वाले मनजीत सिंह लांबा नाम के शख्स ने सीबीआई की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा को शिकायत की थी कि उनके पास राजीव भट्टाचार्य नाम के एक शख्स का फोन आया था. जिसने उनसे कहा कि वह दक्षिण दिल्ली में जो मकान बनवा रहे हैं उसको लेकर बहुत सारी शिकायतें हैं और वह स्थानीय एमसीडी के बड़े अधिकारियों को जानते हैं. अगर वह लोग चाहेंगे तो मकान नहीं टूटेगा. आरोप के मुताबिक राजीव भट्टाचार्य ने मनजीत सिंह लांबा को बताया कि टीआरएस की एमपी कविता की निजी सहायक शुभांगी गुप्ता के नंबर पर बात भी कर लें. साथ ही इन लोगों ने अपना जो पता बताया वह पता भी सांसद कविता का दिल्ली स्थित अधिकारिक निवास का था.

रिश्वत की डिमांड

सीबीआई का कहना है कि मनजीत सिंह लांबा से पहले मकान न तोड़े जाने के बदले पांच लाख रुपये रिश्वत की डिमांड की गई और बाद में यह मामला एक लाख रुपये में सेटल हुआ. मनजीत सिंह लांबा ने इस मामले को लेकर सीबीआई की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा को शिकायत की. सीबीआई ने पहले इस मामले में स्वतंत्र गवाहों के साथ मिलने वाली शिकायत की आरंभिक जांच की. इस जांच के दौरान यह पाया गया कि शिकायतकर्ता मनजीत सिंह लांबा सांसद के अधिकारिक निवास में गया, जहां राजीव भट्टाचार्य और शुभांगी गुप्ता भी मौजूद थे. शुरुआती जांच के दौरान आरोप की पुष्टि होने के बाद सीबीआई ने जाल बिछाकर तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया.

सीबीआई प्रवक्ता आरसी जोशी के मुताबिक शुरुआती जांच के बाद इस मामले में आपराधिक षड्यंत्र और उगाही करने की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया, जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है उनके नाम राजीव भट्टाचार्य शुभांगी गुप्ता और देवेंद्र कुमार मौर्य बताए गए हैं. उधर टीआरएस की सांसद कविता ने अपना एक बयान जारी कर कहा है कि उन्होंने दिल्ली स्थित अपना आधिकारिक निवास ड्राइवर दुर्गेश कुमार मौर्य को सौंपा हुआ था. सांसद ने कहा कि उनका कोई भी निजी सहायक दिल्ली में नहीं है बाकी अन्य दो लोग जो गिरफ्तार किए गए हैं उनके बारे में वह कुछ नहीं जानती हैं. सांसद ने इन लोगों के खिलाफ कड़ा एक्शन लेने को भी कहा है. फिलहाल सीबीआई इन तीनों के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है और मामले की जांच जारी है.

यह भी पढ़ें:

‘स्पेशल 26’ फिल्म की तर्ज पर दिया लूट की वारदात को अंजाम, सीबीआई ऑफिसर बनकर पहुंचे थे गैंग के सदस्य

AuthenticCapitalstore

Leave a Reply