Arenacakes

Blog

Uncategorized

CSK vs DC: धवन और शॉ के तूफान में उड़ा CSK, दिल्ली ने जीत के साथ किया आगाज़

CSK vs DC: आईपीएल 2021 के दूसरे मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को सात विकेट से हरा दिया. इसके साथ ही दिल्ली ने जीत के साथ अपने अभियान का आगाज़ किया. चेन्नई ने पहले खेलते हुए 20 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 188 रन बनाए थे. इसके जवाब में दिल्ली ने 18.4 ओवर में तीन विकेट खोकर आसानी से लक्ष्य का पीछा कर लिया.

दिल्ली की इस जीत के हीरो रहे शिखर धवन और पृथ्वी शॉ. धवन ने 54 गेंदो में 85 रन बनाए. अपनी इस पारी में उन्होंने 10 चौके और दो छक्के जड़े. वहीं शॉ ने 38 गेंदो में 72 रनों की तूफानी पारी खेली. इस दौरान उनके बल्ले से 9 चौके और तीन छक्के निकले. इन दोनों ने पहले विकेट के लिए 13.3 ओवर में 138 रन जोड़कर अपनी टीम की जीत सुनिश्चित कर दी थी.

इसके बाद तीन नंबर पर बैटिंग करने आए कप्तान ऋषभ पंत 12 गेंदो में दो चौको की मदद से 15 रन बनाकर नाबाद रहे. वहीं मार्कस स्टोइनिस ने 9 गेंदो में तीन चौको के साथ 14 रन बनाए. पंत ने शार्दुल ठाकुर की गेंद पर चौका लगाकर टीम को जीत दिलाई. वहीं चेन्नई के लिए शार्दुल ठाकुर ने दो और ड्वेन ब्रावो ने एक विकेट लिया.

इससे पहले चेन्नई ने सुरैश रैना (54) के अर्धशतक और सैम करेन (15 गेंदों पर 34 रन) और रविंद्र जडेजा (17 गेंदों पर नाबाद 26 रन) की विस्फोटक पारी के दम पर 20 ओवर में 188 रन बनाए थे. वहीं दिल्ली के लिए तेज गेंदबाज आवेश खान और क्रिस वोक्स ने दो-दो विकेट लिए जबकि रविचंद्रन अश्विन और टॉम कर्रन ने एक-एक विकेट चटकाया.

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी चेन्नई की शुरूआत खराब रही और उसने फाफ डू प्लेसिस का विकेट कुल सात रन के स्कोर पर गंवा दिया. डू प्लेसिस तीन गेंदें खेले खाता खोले बिना आउट हुए. इसके कुछ समय बाद ही टीम के इसी स्कोर पर रुतुराज गायकवाड़ अपना विकेट गंवा बैठे. उन्होंने आठ गेंदों पर एक चौके की मदद से पांच रन बनाए.

शुरुआती झटकों के बाद मोइन अली और रैना ने पारी को संभालने की कोशिश की और दोनों बल्लेबाजों के बीच तीसरे विकेट के लिए 53 रनों की साझेदारी हुई. हालांकि मोइन अश्विन की गेंद पर शिखर धवन को कैच थमाकर आउट हो गए. मोइन ने 24 गेंदों पर चार चौकों और दो छक्कों की मदद से 36 रन बनाए.

यह साझेदारी टूटने के बाद अंबाती रायुडू और रैना ने चौथे विकेट के लिए 63 रन जोड़े लेकिन रायुडू 16 गेंदों पर एक चौके और दो छक्कों की मदद से 23 रन बनाकर चौथे बल्लेबाज के रूप में आउट हुए.

रैना ने इसके बाद अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन वह रन आउट होकर पवेलियन लौट गए. रैना के आउट होने के तुरंत बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी खाता खोले बिना आवेश की गेंद पर बोल्ड हो गए. धोनी लंबे समय बाद मैदान पर उतरे थे लेकिन इस सीजन के पहले मैच वह बल्ले से करिश्मा नहीं दिखा सके.

अंत के ओवरों में जडेजा और करेन ने ताबड़तोड़ पारियां खेली और टीम को सुखद स्थिति तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई. जडेजा चोटिल होने के बाद पहली बार मैदान पर उतरे और उन्होंने बल्ले से अपना जल्वा बिखेरा. कर्रन ने अपनी पारी में चार चौके और दो छक्के जड़े जबकि जडेजा ने 17 गेंदों की अपनी पारी में तीन चौके लगाए.

AuthenticCapitalstore

Leave a Reply