Arenacakes

Blog

Uncategorized

अनोखी धोखाधड़ी का खुलासा, जेल में प्लान बना कर बाहर ठगे लाखों रुपए

<p style="text-align: justify;"><strong>जयपुर:</strong> राजस्थान की राजधानी में एक नए तरह की धोखाधड़ी का पर्दाफाश हुआ है. बताया जा रहा है कि यहां किसानों को बरगला कर उनसे फाइनेंस पर ट्रैक्टर आदि खरीदवाते थे. इसके बाद वे इसे सस्ते दामों पर बेच कर फरार हो जाते थे. पुलिस ने जांच में पाया है कि करीब डेढ़ करोड़ से भी ज्यादा का घोटाला किया गया है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>ऐसा जाल बिछा रखा था कि लोग उसमें आकर फंसते थे</strong></p>
<p style="text-align: justify;">बताया जा रहा है कि आरोपियों ने ऐसा जाल बिछा रखा था कि लोग उसमें आकर फंसते थे. उन्होंने शिकार लोगों को बता रखा था कि भारतमाता समेत प्रदेश के बड़े हाईवे प्रोजेक्ट्स में उनका वाहन भाड़े पर लग जाएगा जिसमें उन्हें मोटा मुनाफा होगा. यहीं नहीं वो इतने शातिर थे कि पहली किश्त वो खुद भर देते थे. ताकि विश्वास पक्का हो जाए.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">बताया जा रहा है कि दो लोगों को पुलिस ने इस मामले में गिरफ्तार किया है. साथ ही यह भी जानकारी मिली है कि अगल-अलग अपराधों में वो एक साल तक जेल में थे. यहीं पर उन्होंने इस तरह की ठगी का जाल बुना था. उन्होंने कई लोगों को इस चक्कर में फंसाकर ठगने का काम किया था.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>दोनों आरोपियों की उम्र करीब 25 और 26 साल है</strong></p>
<p style="text-align: justify;">दोनों आरोपियों की उम्र करीब 25 और 26 साल है. उनके नाम कमलेश और गणेश हैं. इतनी कम उम्र में ही इन्होंने ठगी का ऐसा जाल बुना था कि उसे समझने में ही जांच अधिकारियों को वक्त लग गया. पुलिस अब यह भी जांच कर रही है कि क्या इन्होंने अन्य तरह की ठगी में भी लोगों को फंसाया है क्या ?</p>
<p style="text-align: justify;">इस बीच बताया जा रहा है कि वो ईएमआई पर किसानों से ट्रैक्टर और जेसीबी खरीद कराते थे. फिर उसे लेकर भाड़े पर लगाने का झांसा देते थे लेकिन असल में सस्ते दामों में उसे बेच देते थे. ऐसे कर के उन्होंने 18 ट्रैक्टर, 5 कैंपर, एक जेसीबी, एक पिकअप और एक इटियास की ठगी की है.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">पुलिस अब इस पूरे मामले की जांच में लगी है और यह भी पता लगा रही है कि क्या उनके साथ और भी कुछ लोग इसमें मिले थे ? पुलिस का कहना है कि इन्होंने इसतरह से जाल बुना था कि पकड़े जाने की मियाद ही लंबी थी. लेकिन, जब लोगों को पता चला तब तक दो दर्जन वाहनों से ज्यादा का काम कर चुके थे.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>यह भी पढ़ें:&nbsp;</strong></p>
<p style="text-align: justify;"><a href="https://www.abplive.com/news/crime/businessman-commits-suicide-in-rajasthan-1900776">फंदे पर झूला कारोबारी, सुसाइड नोट में लिखा- जमीन हड़प ली गई अब न्याय की उम्मीद नहीं</a></p>
<p style="text-align: justify;"><a href="https://www.abplive.com/news/crime/knife-placed-on-the-neck-of-a-one-and-a-half-year-old-girl-raped-her-mother-1900422">डेढ़ साल की बच्ची के गले पर रखा चाकू, मां के साथ किया दुष्कर्म</a></p>
AuthenticCapitalstore

Leave a Reply