Arenacakes

Blog

Uncategorized

बॉल टेंपरिंग विवाद और ज्यादा गहराया, माइकल क्लार्क ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों पर लगाए गंभीर आरोप

साल 2018 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बॉल टेंपरिंग करने की वजह से विवादों में आ गए हैं. घटना के तीन साल बाद बॉल टेंपरिंग में शामिल रहे ऑस्ट्रेलियाई ओपनर बैनक्रॉफ्ट ने चौंकाने वाले खुलासा किया है. बैनक्रॉफ्ट का आरोप है कि ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को टेंपरिंग के बारे में जानकारी थी. बैनक्रॉफ्ट को इस मामले में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क का भी साथ मिला है.

क्लार्क ने कहा है कि उन्हें बल्लेबाज बैन बैनक्रॉफ्ट के उस बयान पर कोई हैरानी नहीं है, जिसमें बैनक्रॉफ्ट ने हाल में कहा था कि दक्षिण अफ्रीका में हुई टेस्ट सीरीज के दौरान हुए बॉल टेम्परिंग योजना के बारे में खिलाड़ियों को पहले से ही जानकारी थी. 2018 में दक्षिण अफ्रीका दौरे पर केप टाउन टेस्ट के दौरान बल्लेबाज बैनक्रॉफ्ट कैमरे में गेंद से छेड़खानी करते हुए पकड़े गए थे.

बैनक्रॉफ्ट के साथ बॉल टेंपरिंग में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर का नाम भी सामने आया था. क्लार्क ने कहा, ” मैं अब आपको बता सकता हूं कि अगर आपने एक पेन पकड़ा, बस एक पेन और उससे मेरे क्रिकेट बैट पर कहीं ‘1’ लिख दिया. हैंडल के ऊपर, बल्ले के किनारे पर, ग्रिप के नीचे, कहीं भी, बस थोड़ा सा नंबर एक, तो मैं इसका नोटिस करूंगा. इस स्तर पर खिलाड़ियों को इस्तेमाल किए जा रहे उपकरणों के बारे में काफी जानकारी होती है और इस पर विश्वास करना मुश्किल है कि गेंदबाजों ने गेंद पर खरोंच के निशान नहीं देखे.”

क्लार्क ने लगाए गंभीर आरोप

क्लार्क ने कहा कि ऐसा नहीं हो सकता कि गेंदबाज को टेंपरिंग के बारे में जानकारी नहीं हो. क्लार्क का मानना है कि स्मिथ, वार्नर और बैनक्रॉफ्ट के अलावा भी टीम के सदस्यों को टेंपरिंग के बारे में जानकारी थी.

बता दें कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बॉल टेंपरिंग विवाद में सामने आई नई जानकारियों को जुटाना शुरू कर दिया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अधिकारी इस बारे में बैनक्रॉफ्ट से बात करने की कोशिश कर रहे हैं.

IPL में हिस्सा लेने वाले ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी आखिरकार अपने देश पहुंचे

AuthenticCapitalstore

Leave a Reply